MP E Uparjan Portal 2021-22 । एमपी ई उपार्जन ऑनलाइन पोर्टल, (रवि/खरीफ) @mpeuparjan.nic.in

0
10543

e uparjan portal mp 2022 : मध्य प्रदेश ई उपार्जन पोर्टल किसान पंजीयन फॉर्म । एमपी ई उपार्जन किसान कोड से पंजीयन व ऑनलाइन आवेदन (कैसे करे) की जानकारी । mpeuparjan.nic.in Portal Kisan Registration । MP e Uparjan 2020-21 । e-panjiyan Kisan code, customer care, helpline complaint number । Madhya Pradesh E Uparjan Scheme । kharif gehu kharid registration online procurement ।

एमपी ई उपार्जन पोर्टल की शुरुआत मध्य प्रदेश राज्य सरकार द्वारा की गई हैं। मध्य प्रदेश ई उपार्जन पोर्टल योजना में पंजीयन कराने के बाद किसान अपनी फसल को समर्थन मूल्य पर बेच सकते हैं। रवि / खरीफ की फसल का e-panjiyan mp में ऑनलाइन कराया जा सकता हैं। इसके लिए राज्य सरकार की official website mpeuparjan.nic.in पर विजिट करना होगा। साल 2021 में गेहू खरीदी की प्रक्रिया सफल रही, अब वर्ष 2022 में गेहू की तुलाई व खरीदी के लिए पंजीयन प्रक्रिया जल्द ही शुरू की जाएगी। यदि आप भी मध्य प्रदेश के किसान हैं और अपनी गेंहू की फसल का रजिस्ट्रेशन / पंजीयन कराना चाहते है तो इस आर्टिकल के माध्यम से आप mp e uparjan 2021-22 पंजीयन और इसकी अन्य गतिविधियों के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

यदि आप भी एमपी ई उपार्जन पोर्टल के बारे में अधिक जानकारी जैसे किसान फसल पंजीयन ऑनलाइन कैसे निकाले और गेहूं पंजीयन ऑनलाइन कैसे किया जाता हैं आदि की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़े.

MP E-Uparjan Portal 2022 – Overview

योजना का नामएमपी ई-उपार्जन पोर्टल
योजना का शुभारम्भमध्य प्रदेश सरकार
लाभार्थीराज्य के समस्त किसान
आर्टिकल केटेगरीयोजना
ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू होने की तिथिजल्द ही उपलब्ध
ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथिजल्द ही उपलब्ध
आधिकारिक वेबसाइटmpeuparjan.nic.in

एमपी ई उपार्जन पोर्टल 2020-21 : mpeuparjan.nic.in

फसल पंजीयन कराने के लिए मध्य प्रदेश राज्य के किसानों को कई दिक्कत का सामना करना पड़ता था और इसके चलते वह अपनी फसल को समर्थन मूल्य से भी कम मूल्य पर बेचने पर मजबूर हो जाते हैं। इसका विशेष कारण कई वजह से पंजीयन न हो पाना रहता था। लेकिन अब एमपी ई उपार्जन पोर्टल 2022 (mp e-uparjan) पोर्टल की सहायता से प्रत्येक नागरिक अपनी फसल का पंजीयन स्वयं ही करने में सक्षम हैं या फिर वह ई-प्रोक्योरमेंट पोर्टल से करबा सकते हैं।

रवि उपार्जन वर्ष 2021-22 हेतु किसान पंजीयन आवेदन

फसल की बिक्री के लिए एमपी ई उपार्जन 2021 22 में भी रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पिछले वर्ष की तरह ही होगी। लेकिन इस बार कुछ बदलाव देखने को मिलेंगे। बता दें कि पहले पंजीकरण कृषि उपज मंडी से किया जाता था। इससे किसानों को असुविधा का सामना करना पड़ता था और कालाबाजारी जैसी गतिविधियाँ भी सामने आने लगी थी। लेकिन अब किसान अपनी फसल का पंजीयन MP e-UPARJAN की साईट पर जाकर स्वयं ही इन्टरनेट की सहायत से घर बैठे कर सकते हैं।

मध्य प्रदेश पोर्टल योजना का उद्देश्य

जैसा कि आप जानते हैं कि राज्य के किसानों को गत वर्ष पंजीयन कराने में खासी मसक्कत करनी पड़ी थी। इसके बाबजूद भी कुछ किसानों का पंजीयन संभव नहीं हो सका था और उन्हें अपनी फसल समर्थन मूल्य से भी कम मूल्य पर बेचनी पड़ी परिणामस्वरूप उन्हें नुकसान झेलना पड़ा था। इन तमाम स्थित का आंकलन करने के बाद सरकार ने फसल बिक्री समर्थन मूल्य रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया को ऑनलाइन मूड पर कर दिया हैं, जिससे अब किसानों को गेहूं पंजीयन ऑनलाइन या अन्य फसल का रजिस्ट्रेशन कराने में सुविधा होगी।

mp e-uparjan registration 2020-21 का लाभ

  • ऑनलाइन ई पोर्टल के की वजह से समय पर पंजीयन किया जा सकेगा।
  • mp e-uparjan portal की मदद से समय की बचत हो सकेगी।
  • घर बैठे रजिस्ट्रेशन करने की सुविधा मिल जायेगी।
  • पंजीयन करने के नाम पर होने वाली काला-बाजारी पर भी रोकथाम हो सकेगी अर्थात पहले पंजीयन कराने के लिए रिश्वत खोरी रुक सकेगी।
  • पंजीयन होने पर फसल खरीदी के लिए मेसेज मोबाइल नंबर पर आ जाएगा। पहले से जाकर लम्बे समय तक अकारण बैठने की जरूरत नहीं हैं।
  • फसल बेचने के लिए तीन तारीख बतानी होती हैं।

एमपी राशन कार्ड ऑनलाइन आवेदन

MP e Uparjan 2022 पंजीकरण (registration) के दस्तावेज़ (पात्रता )

  • आवेदक की समग्र आईडी होना चाहिए
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • निवास प्रमाण पत्र
  • ऋण पुस्तिका
  • आधार कार्ड

MP E UPARJAN PORTAL के दिशा निर्देश

  • किसान समग्र आईडी और आधार कार्ड के माध्यम से रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।
  • samagra id के बिना पंजीकरण कराना संभव नहीं हैं।
  • Mobile number होना चाहिए और वह भी आधार नंबर के साथ जुड़ा होना चाहिए।
  • बैंक अकाउंट की जानकारी होना चाहिए।
  • रजिस्ट्रेशन के तुरंत बाद आपको एक स्लिप या रसीद दी जाएगी, जिसे भविष्य के लिए सुरक्षित संभालकर रखे।
  • पावती का प्रिंट निकलकर रख ले और अनाज की खरीदी के समय पावती अवश्य ले जाए।

धान विक्रय हेतु पंजीकरण

यदि आप धान का विक्रय हेतु पंजीयन कराना चाहते हैं तो इसकी प्रक्रिया भी ऊपर दी गई रजिस्ट्रेशन प्रोसेस की तरह ही हैं।

एमपी ई-उपार्जन पोर्टल 2020-21 पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे ? : Gehu ka Panjiyan kaise kare

  • सर्वप्रथम एमपी ई-उपार्जन पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाए।
  • वेबसाइट के होम पेज पर दिखाई दे रही सूची में से “रबी 2021-22” के विकल्प पर क्लिक करे।
  • जैसे ही आप विकल्प पर click करेंगे आपके सामने के एक नया पेज खुल जाएगा।
  • यहाँ दिखाई दे रहे विकल्प “रवि उपार्जन वर्ष 2021-22 हेतु किसान पंजीयन आवेदन” (गेहूं पंजीयन ऑनलाइन) क्लिक करे।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा जिसमे पंजीयन से सम्बंधित कुछ दिशा निर्देश दिखाई देंगे। इन निर्देशों को ठीक से पढ़े।
  • स्क्रीन पर दिखाई दे रहे मोबाइल नंबर, सामाग्र आईडी या किसान कोड को भरकर सर्च पर क्लिक करे।
  • जैसे ही आप सर्च पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक फॉर्म खुल जाएगा जिसमें पूछी गई जानकारी ठीक से भरकर सबमिट कर दें।
  • अब आपको सक्सेसफुल पंजीयन के साथ रजिस्ट्रेशन नंबर व पावती संख्या तुरंत मिल जाएगी।
  • यह वही पावती जिससे आप खरीदी केंद्र पर अपने अनाज को बेच सकेंगे।

mp e-uparjan mobile app कैसे डाउनलोड करे : ई-उपार्जन मोबाइल एप

  • एप्लीकेशन डाउनलोड करने के लिए google play store पर जाए।
  • play store पर जाकर mp e-uparjan टाइप करे।                               
  • आपके सामने एप्लीकेसन आ जाएगी जिसे आप डाउनलोड करके अपने मोबाइल में इंस्टाल कर सकते हैं।  

किसान कोड से पंजीयन की जानकारी / रजिस्ट्रेशन कैसे करे : अपना पंजीयन कैसे देखें

  • किसान कोड से पंजीयन करने के लिए सबसे पहले एमपी ई-उपार्जन पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाए।
  • वेबसाइट के होम पेज पर दिखाई दे रही सूची में से “रबी 2021-22” के विकल्प पर क्लिक करे।
  • जैसे ही आप विकल्प पर click करेंगे आपके सामने के एक नया पेज खुल जाएगा।
  • यहाँ दिखाई दे रहे विकल्प “किसान कोड से पंजीयन सम्बंधित जानकारी प्राप्त करे” (गेहूं पंजीयन ऑनलाइन) क्लिक करे।
  • अब यह एक नया विंडो (पॉपअप पेज) खुल जाएगा।
  • फॉर्म में दिखाई दे रही जानकारी ठीक से भरे।
  • अंत में कैप्चा कोड भरकर किसान सर्च बटन पर क्लिक करें।
  • अब कंप्यूटर स्क्रीन पर किसान रवि फसल पंजीयन से सम्बंधित जानकारी दिखाई देने लगेगी।

एमपी भूलेख खसरा खतौनी नकल जमाबंदी

OFFICIAL WEBSITE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here