Indira Rasoi Yojana 2022: राजस्थान इंदिरा रसोई योजना की पात्रता, रजिस्ट्रेशन, लाभ की जानकारी

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना 2022 की पात्रता, लाभ, पंजीकरण प्रक्रिया, Indira Rasoi Yojana 2022:

Indira Rasoi Yojana In Hindi : इंदिरा रसोई योजना की शुरुआत करने की घोषणा राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी ने की हैं। बता दें कि इस योजना के माध्यम से राजस्थान के लोगो को किफायती दर पर दो वक्त का पोष्टिक भोजन उपलब्ध कराया जाएगा। ऐसे व्यक्ति जो COVID-19 की मार झेल रहे हैं और दो वक्त के भोजन के लिए भी मोहताज हो गए हैं, इस योजना के माध्यम से उन्हें आसानी से भोजन मिल जाएगा। आज हम अपनी इस पोस्ट में आपको इंदिरा रसोई योजना से जुडी कुछ मुख्य बाते, इंद्रा रसोई योजना का लाभ कैसे ले, इंद्रा रसोई योजना क्या हैं और कैसे काम करती हैं ? इन सभी बातो के बारे में बताएँगे इसलिए आप हमारी पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़े।

Indira Rasoi Yojana 2022

राजस्थान सरकार ने इंदिरा रसोई योजना का शुभारंभ पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 76 वीं जयंती के पावन अवसर पर किया हैं। बता दें कि योजना के तहत राजस्थान राज्य के 213 नगर निकायों में 358 Indira Rasoi संचालित की जाएगी। योजना के माध्यम से सालाना 4.87 करोड़ लोगो को व प्रति दिन 1.34 करोड़ लोगो को लाभान्वित करने का लक्ष्य हैं। योजना का सालाना अनुमानित खर्च 100 करोड़ रूपए तय किया गया हैं।

Rajasthan Indira Rasoi Yojana

योजना का नामइंदिरा रसोई योजना
राज्यराजस्थान
मुख्यमंत्रीअशोक गहलोत
योजना का उद्देश्यप्रदेश के लोगो को दो वक्त का भोजन उपलब्ध कराना
लाभार्थीगरीब व्यक्ति

इंदिरा रसोई योजना का उद्देश्य

जैसा कि आप जानते हैं कि इंदिरा रसोई योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के समस्त व्यक्तियों को दो वक्त का भोजन आसानी से और सस्ती दर पर उपलब्ध कराना हैं। साथ ही राज्य का कोई भी नागरिक भूखा न सोये इसी लक्ष्य के साथ इस योजना का शुभारंभ किया जा रहा हैं। इसलिए राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी ने किफायती दर पर दोनों टाइम का भोजन और नास्ते के लिए की आपूर्ति के लिए indira rasoi yojana शुरू करने की घोषणा की हैं।

इंदिरा रसोई योजना का बजट कितना हैं :

indira rasoi yojana का बजट 100 करोड़ रुपए रखा गया हैं और स्थानीय स्वयं सहायता समूह की मदद से लोगो को खाना खिलाया जाएगा।

indira rasoi yojana में प्रति व्यक्ति की थाली पर कितना पैसा खर्च होगा :

इस योजना के माध्यम से 20 रुपए में भोजन मिलेगा लेकिन 12 रुपए का भुगतान राज्य सरकार करेगी, इस तरह से 8 रुपए की कीमत पर पोष्टिक भोजन राजस्थान के निवासियों को प्राप्त होगा।

इंदिरा रसोई योजना का पुराना नाम क्या हैं :

अन्नपूर्णा रसोई योजना का नाम बदलकर अब इंदिरा रसोई योजना कर दिया गया हैं।

आयुष्मान भारत योजना

इंदिरा रसोई योजना के मुख्य बिंदु

  • इस योजना की शुरुआत “कोई भी भूखा न सोए” के संकल्प के शुरुआत करने का ऐलान किया गया हैं।
  • बता दें कि लोगो को दो टाइम का पौष्टिक भोजन रियायती दर पर उपलब्ध कराया जाएगा।
  • लोगो को खाना खिलाने के लिए किसी फॉर्म को नही बल्कि स्थनीय NGO के माध्यम से कार्य संपन्न करवाने की दिशा में विचार किया जा रहा हैं।
  • योजना पर सालाना खर्च की राशि 100 करोड़ रुपए होगी।
  • लोगो को भोजन करने के लिए किसी वैन गाड़ी का उपयोग नहीं किया जाएगा बल्कि स्थाई रूप से दुकान का प्रबंध कराया जाएगा।
  • जिला स्तर पर जिला कलेक्टर होंगे योजना के संचालक।
  • अन्नपूर्णा योजना के संचालन की भाती इंदिरा रसोई योजना के संचालन की जिम्मेदारी किसी एक संस्था को नहीं दी जाएगी।
  • योजना को सफल बनाने के लिए बजट का आबंटन राज्य के प्रत्येक जिले में किया जाएगा।
  • रसोई बनाने के लिए सरकारी संस्थान या NGO भवनों का उपयोग किया जाएगा।

इंदिरा रसोई योजना की नई अपडेट : indira rasoi yojana latest news in hindi

बता दें कि इंदिरा रसोई योजना को शुरू करने की घोषणा राजस्थान सरकार ने कर दी हैं लेकिन अभी यह नहीं बताया गया हैं कि योजना की शुरुआत कब से होगी। हम आपको बता दें कि जैसे indira rasoi yojana latest update 2022 सामने आती हैं हम तुरंत इस पोस्ट के माध्यम से अब तक पहुंचा देंगे।

इंदिरा रसोई योजना की शुरुआत किस राज्य द्वारा की गई हैं ?

इस योजना को शुरू करने का श्रेय राजस्थान सरकार को जाता हैं ।

Rajsthan Indira Rasoi योजना से क्या लाभ होगा ?

यह योजना गरीब और जरूरतमंद व्यक्तियों को सस्ती कीमत पर भोजन उपलब्ध कराएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*